तिवारीपुर पुलिस पर महिला ने लगाया मारपीट व छेड़छाड़ के मामले में…

गोरखपुर। जिला मुख्यालय से सटे तिवारीपुर थाना के बगल में रहने वाली एक महिला ने स्थानीय पुलिस पर मारपीट और छेड़छाड़ के मामले में कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए उच्च अधिकारियों से आरोपियों पर कार्यवाही की मांग किया। तिवारीपुर थाने के पास की रहने वाली महिला ने आज गोरखपुर जर्नलिस्ट्स प्रेस क्लब में प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि विगत 10 वर्षों से उनके मकान और जमीन को लेकर पट्टीदारों से विवाद चल रहा है।

Advertisement

इसी बीच विगत 12 जून 2022 को हमारे पट्टीदार रंजीत कुमार तिवारी ने कुछ बाहरी व्यक्तियों को बुलाया। जिनमें से कुछ का नाम मुझे मालूम है और कुछ का नाम नहीं जानती हूँ। यह लोग एकजुट होकर लाठी-डंडा,छीनी-हथौड़ी और धारदार हथियार लेकर मकान का ताला तोड़ने लगे और मेरे घर में घुसने लगे।जिसका मेरे द्वारा विरोध करने पर सभी लोग मेरे ऊपर हमला कर दिये और अश्लीलता करते हुए मेरा ब्लाउज फाड़कर मेरे साथ अश्लील हरकत भी की।

चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर इस बीच मेरे बड़े बेटे भी वहां पहुंचकर मेरा बचाव करने लगे। लेकिन इन लोगों ने मुझे और मेरे बेटे को बुरी तरीके से मारा पीटा और गाली देते हुए हथौड़ी से हाथ पर भी वार किया। मेरे शरीर पर मौजूद सोने के आभूषण छीन लिए। इसको लेकर जब मैंने तिवारीपुर थाने पर इसकी लिखित शिकायत किया और वीडियो दिखाया तो पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। मारपीट के लिए पुलिस ने हम लोगों का भी मेडिकल भी नहीं कराया।

काफी दौड़ने के बाद मैंने खुद जिला चिकित्सालय पहुंचकर प्रार्थना पत्र के माध्यम से मेडिकल कराया और 16 तारीख को ही मैंने इसकी शिकायत एसएसपी और अनु उच्च अधिकारियों के साथ ही मुख्यमंत्री से भी पूरे प्रकरण की शिकायत की है। लेकिन कहीं से भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। मैं चाहती हूं कि उच्च अधिकारी मामले का संज्ञान लेते हुए मेरे साथ हुई घटना को लेकर मुकदमा दर्ज कर आरोपियों पर कार्रवाई करें ताकि भविष्य में मेरे साथ कोई घटना ना हो।

यह भी पढ़ें:-वाराणसी: ज्ञानवापी परिसर के ढांचे में छेड़छाड़ के मामले में दर्ज निगरानी याचिका खारिज