ड्रैगन को बस में करने के लिए अमेरिका ने उतारा ये खतरनाक युद्धपोत, जानें इसकी खासियत

0
20

Advertisement

China-Taiwan Tensions: चीन और ताइवान तनाव के बीच ड्रेगन को बस में करने के लिए अमेरिका ने अपना परमाणु युद्धपोत ताइवान के पास तैनात कर दिया है। इस 90 फाइटर जेट वाले यूएसएस रोनाल्ड रीगन (USS Ronald Reagan) को ताइवान की रक्षा में उतारा है। चीन के हर कदम पर अमेरिका अपनी पैनी निगाह रख रहा है। इस बैटलशिप में युद्ध से संबंधित सभी खासियत मौजूद है।बता दें कि यूएसएस रोनाल्ड रीगन दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा विमानवाहक पोत है।

Advertisement

हाल ही में चीन ने अपने सबसे आधुनिक एयरक्राफ्ट कैरियर फुजियान को लॉन्च किया है। राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चीन के सशस्त्र बलों को 2035 तक आधुनिकीकरण करने का आदेश दिया है। ताइवान के साथ जारी तनाव को देखते हुए भी चीन की सैन्य शक्ति के विस्तार को काफी अहम माना जा रहा है।

Advertisement

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के नाम पर है युद्धपोत
अमेरिका नौसेना का यूएसएस रोनाल्ड रीगन में निमित्ज क्लास (Nimitz Class) का एयरक्राफ्ट करियर है, जिसका नाम द्वितीय विश्व युद्ध के बाद यूएस पैसिफिक फ्लीट कमांडल फ्लीट एडमिरल चेस्टर डब्ल्यू निमित्ज के नाम पर दिया गया था। हालांकि रोनाल्ड रीगन नाम पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के नाम पर है।

लंबाई 1092 फीट
निमित्ज क्लास में परमाणु ईंधन से संचालित होने वाले 10 एयरक्राफ्ट करियर्स हैं। जिनमें रोनाल्ड रीगन सबसे नए करियर्स में से एक है। इसे 12 जुलाई 2003 को अमेरिकी नौसेना को सौंपा गया था। तब से यह लगातार सक्रिय रूप से अमेरिका के सातवें फ्लीट (US Seventh Fleet) का प्रमुख जंगी जहाज है। इसकी डिस्प्लेसमेंट 1.01 लाख टन से ज्यादा  और लंबाई 1092 फीट है। इस एयरक्राफ्ट करियर को दो परमाणु रिएक्टर ताकत प्रदान करते हैं।

20 से 25 साल आयु
यूएसएस रोनाल्ड रीगन में चार स्टीम टरबाइन हैं। यह 56 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से पानी में चलता है। इसकी रेंज असीमित है। यह लगातार 20 से 25 साल तक चल सकता है। इस एयरक्राफ्ट करियर पर 90 फिक्स्ड विंग्स विमान और हेलिकॉप्टर तैनात हो सकते हैं।

तीन तरह के घातक हथियार तैनात
रीगन पर तीन तरह के घातक हथियार तैनात हैं। पहला है इवॉल्व्ड सी स्पैरो मिसाइल (Evolved Sea Sparrow Missile)। दूसरा है रोलिंग एयरफ्रेम मिसाइल (Rolling Airframe Missile) और तीसरा है क्लोज-इन वेपंस सिस्टम (CIWS)। ये तीनों हथियार हमला करके दुश्मन के टारगेट को खत्म कर सकते हैं। साथ ही दुश्मन के विमानों, ड्रोन्स, रॉकेट्स और मिसाइलों से जहाज को बचा सकते हैं।

दो हजार से ज्यादा सैनिक तैनात
रोनाल्ड रीगन पर अत्याधुनिक इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेयर सिस्टम लगा है। जिसे AN/SLQ-32A(V)4 काउंटरमेजर सूइट कहते हैं। इसपर 2480 सैनिक तैनात हो सकते हैं। इसके अलावा SLQ-25A Nixie टॉरपीडो काउंटरमेजर सिस्टम लगा है जो दुश्मन के टॉरपीडो को आने का समय, गति आदि पहले ही बता देता है। ताकि उससे बचा जा सके।

ये भी पढ़ें- आसियान देशों ने हिंसा को लेकर की म्यांमार की आलोचना

Advertisement