“टी10 से भारत को रहना चाहिए दूर”, आकाश चोपड़ा ने 6ixty टूर्नामेंट पर दिया तीखा बयान

Aakash Chopra: हाल ही में वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड ने अपने एक नए टूर्नामेंट टी10 लीग ‘6ixty’ की शुरुआत की घोषणा की थी. कैरेबियन प्रीमियर लीग के साथ-साथ इस लीग के लिए भी दर्शक काफी उत्साहित हो रहे है. इस लीग में नए नियमों के तहत क्रिकेट को नए अवतार में फैंस के सामने रखा जायेगा ताकि ज्यादा दर्शक मैच देखने आये. रिपोर्ट्स के अनुसार अगस्त में होने वाले CPL के साथ ही इस लीग को भी शुरू कर दिया जायेगा. इस नयी टी10 लीग को लेकर इंडिया के पूर्व खिलाडी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने बड़ा बयान देते हुए भारतीय टीम को इस फॉर्मेट से दूर रहने की सलाह दे डाली है.

टी10 फॉर्मेट की जरा भी जरूरत नहीं है – Aakash Chopra

Aakash Chopra

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा का मानना है की क्रिकेट में इस फॉर्मेट को भविष्य ख़ास नहीं है. फैंस के बीच लोकप्रियता बढाने के लिए इस तरह के छोटे फॉर्मेट की कोई जरुरत नहीं है. वेस्टइंडीज़ क्रिकेट अपने इस नए टी10 फॉर्मेट के साथ खेल को ज्यादा से ज्यादा लोकप्रियता देने वाली लीग बता रही है और अब क्रिकेट जगह के सभी दिग्गजों की नज़र इस लीग पर टिकी हुई है.

इस लीग के लिए वेस्टइंडीज़ के स्टार खिलाडी यूनिवर्सल बॉस यानि की क्रिस गेल को ब्रांड एम्बेसेडर बनाया गया है. उम्मीद यह भी की जा रही है की गेल इस लीग में बल्लेबाज़ी करते हुए नज़र आ सकते है. अगर गेल इस लीग में शामिल होते है तो दर्शकों के लिए इस से बेहतर कोई खबर नहीं होने वाली है.

टी20 नहीं देख रहे तो टी10 देखने भी नहीं आयेंगे – आकाश चोपड़ा

Aakash Chopra

6sixty नाम के नए टूर्नामेंट पर अपनी बात रखते हुए आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने कहा,

“टी20 अपने आप में एक छोटा प्रारूप है. आप इसे उससे छोटा क्यों बनाना चाहते हैं? इसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर रखें. बहुत से लोगों का मानना ​​है कि अगर कोई नहीं आया है तो आप इस तरह से नए दर्शकों की संख्या हासिल करने जा रहे हैं. अगर फैंस टी20 देखने नहीं आए तो, वो टी10 भी देखने नहीं आएंगे.”

इस सिलसिले में आगे बात करते हुए Aakash Chopra ने कहा,

“लोग कह रहे हैं कि ये ओलंपिक के लिए अच्छा फॉर्मेट हो सकता है क्योंकि आपको मैचों को बहुत छोटा रखने की जरूरत होती है. मैं समझता हूं कि बहुत से देशों को फायदा होता है अगर ये ओलंपिक खेल बन जाता है. लेकिन, टी10 आगे का रास्ता है, अगर आप मुझसे पूछते हैं कि भारत को टी10 खेलना चाहिए, तो मैं कहूंगा कि मत खेलो.”

और पढ़िए:

जॉनी बेयरस्टो और जेमी ओवरटन ने इंग्लैंड के लिए तोडा 62 साल पुराना रिकॉर्ड, 200 रन से ज्यादा की पार्टनरशिप से टीम को संभाला

टी20 वर्ल्ड कप की टीम ने जडेजा के लिए जगह बनाना होगा बहुत मुश्किल, संजय मांजरेकर ने दिया ये बड़ा बयान

VIDEO: मैदान पर एक-दूसरे के विरोधी बने जडेजा-पंत, फिर भी नहीं भूले याराना