जेमिमाह रोड्रिग्स ने शानदार वापसी के लिए रोहित शर्मा और ऋषभ पंत से ली थी सलाह, खुद किया खुलासा


दाम्बुला। जेमिमाह रोड्रिग्स ने पिछले दो सालों में मिला-जुला प्रदर्शन किया है। पिछले साल इंग्लैंड में वनडे और टी20 सीरीज के दौरान बैंच पर बैठाया गया। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी उन्हें मौका नहीं दिया गया। महिला हंड्रेड और बीबीएल में बढ़िया प्रदर्शन के बावजूद उन्हें वनडे विश्व कप में खेलने का मौका नहीं मिला।

Advertisement

हालांकि जेमिमाह ने सुर्ख़ियों से दूर रहते हुए कड़ी मेहनत करना जारी रखा। उन्होंने सीनियर महिला टी20 ट्रॉफी के छह मैचों में 60.75 के औसत और 167.58 के स्ट्राइक रेट से 243 रन बनाए। इसके बाद उन्होंने महिला टी20 चैलेंज़ में आकर्षक प्रदर्शन किया। अक्टूबर 2021 के बाद अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रही जेमिमाह ने श्रीलंका के ख़िलाफ़ पहले टी20 में 27 गेंदों में 36 रनों की शानदार पारी खेली और टीम की जीत में एक अहम भूमिका निभाई।

प्लेयर ऑफ़ द मैच बनने के बाद जेमिमाह ने कहा, “मेरी लंबाई वही है, लेकिन मानसिक चीजे़ं बहुत बदल गई हैं। पिछले कुछ वर्षों में मेरी यात्रा बहुत आसान नहीं रही है और बहुत सारे उतार-चढ़ाव आए हैं।” “मुझे पिछले कुछ महीनों में रोहित शर्मा और ऋषभ पंत जैसे क्रिकेटरों के साथ बात करने का अवसर मिला।

उन्होंने कहा कि यही वह क्षण है, जो आपको परिभाषित करते हैं और आपको आने वाली किसी बड़ी चीज़ के लिए तैयार करते हैं। यदि आप इसे नकारात्मक तरीके देखते हैं तो यह आपकी मदद नहीं करेगा।” “पिछले कुछ महीनों में मै शांत हो गई हूं और अच्छे रिश्तों का मूल्य मूल्य समझने लगी हूं। मेरा परिवार हमेशा मेरे साथ रहा। पिछले कुछ महीनों ने मुझे अपने खेल को भी बेहतर ढंग से समझने में मदद की है।” उन्होंने कहा, “मैं 4-5 महीने बाद भारतीय टीम में वापस आई हूं। मैं बहुत उत्साहित थी और अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहती थी। जब भी आप भारत की जर्सी पहनते हैं तो आप स्वाभाविक रूप से उत्साहित हो जाते हैं और यह कुछ ऐसा है जो हमेशा मेरे लिए काम करता है। मुझे आक्रामक होना पसंद है।”

ये भी पढ़ें : Ranji Trophy Final : रणजी फाइनल में मुंबई की बढ़ी मुसीबत, शुभम शर्मा और यश दुबे की शतकीय पारी से मजबूत स्थिति में मध्य प्रदेश





Source link