जानिए ग्राहक क्यों खरीद रहे हैं 22 की जगह 18 कैरेट का सोना

0
154

पिछले कुछ दिनों से देश में सोने के साथ-साथ चांदी की मांग में तेजी देखी जा रही है। लोग शादी-ब्याह के लग्न के शुरू होने से पहले अपनी-अपनी जरूरतों के मुताबिक इसकी खरीदारी कर रहे हैं। सर्राफा कारोबारियों का कहना है कि पिछले दिनों के मुकाबले उनके पास अब ज्यादा ऑर्डर आ रहे हैं। लोग बड़े पैमाने पर सोने और चांदी के गहने बनवा रहे हैं। साथ ही इन ज्वेलर्स का कहना है कि इसबार सोने की खरीदारी में एक नया ट्रेंड देखने को मिल रहा है। बाजार में 22 और 23 कैरेट की जगह 18 कैरेट के गोल्ड की मांग बढ़ गई है।

दरअसल सोने की कीमत ने शादी-विवाह करने वालों के होश उड़ा दिए हैं। सोने और चांदी के भाव सातवें आसमान पर है। सोने चांदी की कीमत में तेजी का आलम यह है कि यह अपने ऑलटाइम के करीब पहुंच गया है। ऐसा लगता है कि भारतीय बाजार में सोना फिर से नया रिकॉर्ड बना सकता है। सोने कारोबारियों का कहना है कि सोने के बढ़े हुए दाम के कारण ज्यादातर लोग 22 की बजाय 18 कैरेट की आभूषण अधिक खरीद रहे हैं। उनके पास 18 कैरेट गोल्ड से ज्वेलरी तैयार करने के आर्डर आ रहे हैं। सराफा कारोबारियों के मुताबिक सोने की कीमत में बढ़ोतरी के कारण गहने के वजन भी हल्के हो रहे हैं।

इन लोगों का कहना है कि अभी जो आर्डर आ रहे हैं उसमें 18 कैरेट गोल्ड के आभूषण की ज्यादा डिमांड है। सर्राफा कारोबारियों को कहना है कि 22 कैरेट और 18 कैरेट के सोने के दाम में प्रति 10 ग्राम 8500 रुपये यानी 20 फीसदी तक का अंतर आता है। एक सामान्य परिवार अगर शादी-विवाह के मौके पर चार से पांच लाख तक के गहने खरीदता है। जो वजन में 70 से 80 ग्राम होता है। जब वह 22 कैरेट की बजाय उसे 18 कैरेट में लेता है तो उसे 70000 से 80000 रुपये की बचत होता है।

14 से 24 कैरेट Gold Price 

फिलहाल 24 कैरेट सोना का ताजा भाव 53220 रुपये प्रति 10 ग्राम, 23 कैरेट वाला सोना 53007 रुपये प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट वाला सोना 48750 रुपये प्रति 10 ग्राम, 18 कैरेट वाला सोना 39915 रुपये प्रति 10 ग्राम और 14 कैरेट वाला सोना लगभग 31134 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर ट्रेड कर रहा है। ये सभी दाम टैक्स और मेकिंग चार्ज के पहले के हैं। IBJA द्वारा जारी किए गए रेट देशभर में सर्वमान्य हैं लेकिन इसकी कीमतों में जीएसटी शामिल नहीं होती है। आपको बता दें कि गहने खरीदते समय सोने या चांदी के रेट टैक्स समेत होने की वजह से ज्यादा होते हैं।

24 कैरेट का सोना होता है सबसे शुद्ध 

आपको बता दें कि 24 कैरेट का सोना सबसे शुद्ध माना जाता है, लेकिन इस सोने से गहने नहीं बनाए जा सकते हैं क्योंकि ये बेहद मुलायम होते हैं। इसलिए जेवर या फिर आभूषण बनाने में ज्यादातर 22 कैरेट गोल्ड का प्रयोग किया जाता है।

हॉलमार्क देखकर ही खरीदें गोल्ड

आपको बता दें कि सोना खरीदते समय उसकी क्वॉलिटी का ध्यान जरूर रखें। हॉलमार्क देखकर ही सोने के गहनों की खरीदना चाहिए। हॉलमार्क सोने की सरकारी गारंटी है और भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) हॉलमार्क का निर्धारण करती है। हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन, नियम और रेग्युलेशन का काम करती है। इसमें हॉलमार्क से जुड़े कई तरह के निशान पाए जाते हैं, इन निशानों के माध्यम से ज्वेलरी की शुद्धता पहचाना जा सकता है। इसमें से एक कैरेट से लेकर 24 कैरेट तक का पैमाना होता है। 22 कैरेट की ज्वेलरी होगी तो उसमें 916 लिखा होगा। 21 कैरेट की ज्वेलरी पर 875 लिखा होगा। 18 कैरेट की ज्वेलरी पर 750 लिखा होता है। 14 कैरेट की ज्वेलरी होगी तो उसमें 585 लिखा होगा।

ऐसे जानें सोने की शुद्धता

अगर आप अब सोने की शुद्धता जांचना चाहते हैं तो इसके लिए सरकार की ओर से एक एप बनाया गया है। बीआईएस केयर ऐप से ग्राहक सोने की शुद्धता की जांच कर सकते हैं। इस ऐप के जरिए आप न सिर्फ सोने की शुद्धता की जांच कर सकते हैं, बल्कि इससे जुड़ी कोई शिकायत भी कर सकते हैं

मिस कॉल देकर ऐसे जानें सोने का लेटेस्ट प्राइस

22 कैरेट और 18 कैरेट गोल्ड जूलरी के खुदरा रेट जानने के लिए 8955664433 पर मिस्ड कॉल दे सकते हैं। कुछ ही देर में एसएमएस (SMS) के जरिए रेट्स मिल जाएंगे। इसके साथ ही लगातार अपडेट्स की जानकारी के लिए www.ibja.co या ibjarates.com पर देख सकते हैं।