जानिए क्या वजह है राजामौली की फिल्मो के बाद फल्पो क्यों हो जाते है सुपरस्टार

0
18

एसएस राजामौली इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के जबरदस्त निर्देशक में से एक है उनके निर्देशन से बनी ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘आरआरआर ‘ की सफलता ने एक बार फिर साबित किया है की ‘बाहुबली ‘ जैसी जबरदस्त फिल्म की बॉक्स ऑफिस पार सफलता किस्मत नहीं बल्कि राजामौली की मेहनत है आपको बता दे की ‘आरआरआर ‘ राजामौली की दूसरी पेन इंडिया फिल्म है जो 100 करोड़ क्लब में शामिल है राजमौली की फिल्मो में काम करने वाला ऐक्ट्रेस फिल्म रिलीज के बाद पुरे देश में फेमस हो जाते है और रातो रात कद बढ़ जाता है लेकिन उसके बाद की फिल्मो में इन कलाकारों का परफॉर्मेंस दर्शको को निराश करता है 

g

राजामौली के साथ जुड़े इसका सबसे बड़ा उदाहरण सुपरस्टार प्रभास और राम चरण है बात करे प्रभास की  तो साल 2015 में फिल्म ‘बाहुबली ‘ की रिलीज के बाद प्रभास रातो रात पेन इंडिया सुपरस्टार बन गए उनके नाम दक्षिण से लेकर उत्तर तक गुजने लगा प्रभास की इमेज के आगे बॉलीवुड के सितारे छोटे दिखाई देने लगे इसके बाद साल 2017 में रिलीज हुई ‘बाहुबली 2 ‘ ने उनके स्टारडम को पहाड़ से भी उचा कर दिया लेकिन इसके बाद ही रिलीज हुई फिल्म ‘सही ‘ ने बॉक्स ऑफिस पार डीएम तोड़ दिया और बहुत मुश्किल से फिल्म अपनी लागत निकल पाई 

h
 
फिल्म  ‘सहो ‘ की रिलीज के तीन साल आबाद फिल्म ‘राधे श्याम ‘ रिलीज हुई इस फिल्म से दर्शको को काफी उम्मीद थी इसका बजट 350 क्रॉस रूपये था इसका टीजर और ट्रेलर काफी जबरदस्त था लेकिन रिलीज के बाद लोग ठगे रह गए ये फिल्म अपनी लागत भी नहीं निकल पायी इस फिल्म ने कुल ‘150  ‘ करोड़ रूपये का कलेक्शन किया ।  और प्रभास बुरी तरह फ्लॉप हुए और बात करे साऊथ सिनेमा के सुपरस्टार रामचरण का उनका भी यही हुआ ‘आरआरआर ‘ की रिलीज के बाद उनकी तेलगी फिल्म ‘आचार्य ‘ रिलीज हुई ये 140 करोड़  के बजट से बनी है लेकिन ये भी अपना लागत नहीं निकाल पायी इस फिल्म ने 10000 करोड़ की कमाई की है। 

 .हिन्दुस्थान को जबरदस्त फिल्म देकर भारतीय सिनेमा की दिशा बदलने वाले राजामौली हिट फिल्मो की गति के लिए जाने जाते है ये एक डायरेक्टर्स है इनकी फिल्मो में काम करने वाला कलाकार सुपरस्टार बन जाता है किसी भी कलाकार से उसका 1000 फीसदी काम लेने की ताकत है किसी भी फिल्म  में इतना समर्पण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले किसी भी निर्देशक में नहीं देखा है इसी वजन से राजामौली की फिल्मे इतिहास रचती है बॉक्स ऑफिस पार नए रिकॉर्ड बनाती  है राजामौली के अलावा दूसरी सबसे बड़ी वजह ये है की ऐसी फिल्मो में काम करने वाले एक्टर्स से लोगो की अपेक्षा ज्यादा बढ़ जाती है दर्शको की नजरो में उनकी छवि बन जाती है