ग्राम बिंझरा में उत्पात मचाने के बाद हाथियों का दल पहुंचा अमलडीहा पहाड़

0
41





कोरबा  कोरबा जिले में वन मंडल कटघोरा के तीन रेंज पसान, केंदई व जटगा में बड़ी संख्या में हाथियों का दल विचरण कर रहा है। इन हाथियों के विचरण से क्षेत्रवासी काफी परेशान है। इन्हीं में से 7 हाथियों के दलने जहां मंगलवार की शाम पसान रेंज के चोटिया चिरमिरी मुख्य मार्ग पहुंचकर जाम लगा दिया था

इस जाम में पाली तानाखार विधायक मोहित केरकेट्टा का काफिला घंटो फंसा रहा। बाद में सूचना दिये जाने पर वन अमला मौके पर पहुंचा और हाथियों को खदेड़ा वन अमले द्वारा खदेड़े जाने पर हाथी जंगल की ओर गए हाथियों के जाने पर आवागमन सामान्य हुआ वहीं विधायक केरकेट्टा अपने काफिले के साथ गंतव्य की ओर रवाना हुए।

वहीं  9 हाथी जटगा वन परिक्षेत्र के बिंझरा गांव में पहुंच गए और 4 ग्रामीणों के बाड़ी को उजाड़ दिया जिससे उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ा है। हाथियों ने बाड़ी में लगे सब्जी के पौधो को पूरी तरह तहस नहस कर दिया जानकारी होने पर वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा और नुकसानी का आकलन करने के साथ रिपोर्ट तैयार की बिंझरा गांव में उत्पात मचाने के बाद हाथियों का दल अमलीकुंडा के रास्ते अमलडीहा पहाड़ पहुंच गया।

हाथियों को यहां पर देखने के बाद वन विभाग सूचना दिये जाने पर उनके द्वारा हाथियों की निगरानी की जा रही है। उधर कटघोरा डिविजन के केंदई रेंज में 23 हाथी अभी भी विचरणरत है। इसमें से 15 हाथी लालपुर परिसर व 8 कोरबी के जगंल में मौजूद है। हाथियों की लगातार उपस्थिति से क्षेत्रवासी काफी हलाकान है।







Previous articleरामपुर पुलिस ने स्क्रैप से भरी पिकअप की जप्त
Next article83 योजना और 14251 हैण्डपंपों के माध्यम से होगा जिले में पानी उपलब्ध