कांवड़ियों के साथ मारपीट पर बवाल, सकते में आई पुलिस

Advertisement

शाहजहांपुर, अमृत विचार। कस्बा कांट में जल चढ़ाकर लौटे कांवड़ियों के साथ ठेकी पर कुछ लोगों ने विवाद होने पर लाठी-डंडे और धारदार हथियार से हमला बोल दिया। मामला कांवड़ियों से जुड़ा होने के कारण पुलिस सकते में आ गई। मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को थाने ले आई, जहां घंटों दोनों पक्ष के लोगों के बीच बहसबाजी होती रही। इस दौरान विधायक पुत्र अरविंद सिंह और भाजपा नेता कमल वाजपेयी पहुंचे और उन लोगों ने दोनों पक्षों को जैसे-तैसे शांत कराया।

Advertisement

पुलिस ने कांवड़ियों की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर तीन नामजद करते हुए अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इस मामले में पुलिस ने पुत्तन वेग, जीशान हिरासत में लिया है। थाना कांट क्षेत्र के गांव नौगवां निवासी कमलेश कश्यप, आशुतोष मिश्रा, प्रमेश, अवनी गोला कांवड़ चढ़ाने के लिए चाली और बल्ली ले गए, जब कांवड़ चढ़ाने के बाद उसे ठेकी वाले के यहां देने गए तो वहां पहले से ही मौजूद शहनाज, पुत्तन वेग, जीशान आदि लोगों ने देखकर कहा कि इनसे दोगुना किराया लो।

Advertisement

पीड़ित पक्ष ने बताया कि जब उन लोगों ने कम रुपये लेने की बात कहीं, तो आरोपियों ने गाली-गलौज करना शुरू कर दिया तथा एक राय होकर लाठी-डंडे व दारदार हथियार लेकर जान से मारने की नियत से हमलावार हो गए तथा लाठी डंडो व धारदार हथियार से जान से मारने की नियत से मारपीट की, वहां मौजूद तथा अन्य कावड़ियों ने जब मारपीट करते हुए देखा तो भागकर बचाने के लिए आए, तभी आरोपी गाली देते हए भाग गए कि इनको आगे जाने से मार देंगे, आज तो बच गए।

पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। दर्ज रिपोर्ट पर पीड़ित पक्ष की ओरसे आशुतोष मिश्रा निवासी नौगवां के हस्ताक्षर हैं। वहीं घटना की जानकारी मिलने पर दोनों पक्ष के सैंकड़ों लोग कोतवाली गेट पर जमा हो गए। किसी भी तरह की बवाल की आशंका में पुलिस अलर्ट हो गई और दोनों पक्षों को थाने लाकर मामले में कार्रवाई शुरू कर दी।

कांवड़ियों के साथ मारपीट मामले में तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है, इस मामले में पुत्तन और जीशान को हिरासत में लिया गया गया। – मनोज त्यागी, इंस्पेक्टर

ये भी पढ़ें – शाहजहांपुर: घरेलू कलह में लगाई फांसी, भाभी की मौत, ननद भर्ती

Advertisement