कच्ची दीवार ढहने से छात्रा की मौत, पिता और भाई हुआ घायल

0
20

Advertisement

हरदोई। एक पिता अपने दो बच्चों के साथ कच्ची दीवार पर रखे छप्पर में सो रहा था। इसी बीच दीवार भरभरा कर ढह गई। तीनों लोग उसके मलबे में दब गए। इसका पता होते ही वहां पहुंचें लोगों ने किसी तरह तीनो को मलबे से खोद निकाला, लेकिन उससे पहले छात्रा दम तोड़ चुकी थी। जबकि उसके पिता और भाई को पहले सीएचसी ले जाया गया। जहां से उन्हें हरदोई मेडिकल कालेज के लिए रिफर कर दिया गया।

Advertisement

बताते हैं कि पाली थाने के कहारकोला निवासी ऋषिपाल सोमवार की रात को अपने दो बच्चों सात साल की बेटी राजबेटी और पांच साल के बेटे साजन के साथ कच्ची दीवार पर रखे छप्पर के नीचे सो रहा था। जबकि उसकी पत्नी रामबेटी कमरें में थी। इसी बीच कच्ची दीवार भरभरा कर ढह गई। सभी तीनों उसके मलबे में दब गए। दीवार ढहने की आवाज़ से रामबेटी की नींद टूट गई। वह शोर मचाने लगी। उसके शोर को सुन कर लोगों की भीड़ दौड़ पड़ी।

Advertisement

वहां पहुंचे लोगों ने किसी तरह दीवार के मलबे में दबे पड़े लोगों को बाहर निकाला, लेकिन उससे पहले राजबेटी की मौत हो चुकी है। जबकि बुरी तरह घायल हुए ऋषिपाल और साजन को एम्बुलेंस की मदद से पहले पाली सीएचसी ले जाया गया। जहां से उन्हें हरदोई मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। इस बारे में एसएचओ पाली सुनील दत्त कौल ने बताया है कि शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। हादसे की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें:-अयोध्या: अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में एक मौत, एक घायल

Advertisement