ऑटो लिफ्टर गिरोह के निशाने पर अस्पताल और बारात घर

0
67

पीलीभीत, अमृत विचार। एक तरफ पुलिस अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए अभियान चलाकर सख्ती कर रही है। वहीं, दूसरी तरफ बाइक चोरी की घटनाओं में बरती जा रही नजर अंदाजगी का फायदा उठाकर ऑटो लिफ्टर गिरोह सक्रिय हो गया है। बारात घर और अस्पतालों को निशाने पर लेकर वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। सुनगढ़ी क्षेत्र में 24 घंटे के भीतर दो बाइक चोरी कर ली गई। तहरीर मिलने पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है।

Advertisement

नेपाल और उत्तराखंड की सीमा से सटा होने के कारण जनपद में आटो लिफ्टर गिरोह लंबे समय से सक्रिय हैं। लखीमपुर खीरी, बरेली, शाहजहांपुर और उत्तराखंड के शातिर आपराधियों की कई बार गिरफ्तारी कर जेल भेजा गया है। उनसे भी यह बात सामने आई थी कि वाहन चोरी करने के बाद उनकी बिक्री उत्तराखंड के रास्ते नेपाल जाकर कर दी जाती है। ऐसे में नेपाल जाने वाले कच्चे रास्तों पर निगरानी बढ़ाने के निर्देश पूर्व में दिए गए थे।

चोरी की घटनाओं को पुलिस नजर अंदाज करने लगी, जिसके बाद इस तरह के अपराधियों पर शिकंजा नहीं कस सका। अब एक बार फिर ऑटो लिफ्टर शहर में सक्रिय होने लगे हैं। सुनगढ़ी क्षेत्र में ही सिलसिलेवार तरीके से बाइक चोरी कर ली। पूरनुपर के रहने वाले अरविंद कुमार एक दिन पूर्व गौहनिया चौराहा के पास अल्ट्रासाउंड कराने आए थे। वह बाहर बाइक खड़ी करके अल्ट्रासाउंड सेंटर के भीतर चले गए। इस बीच बाहर खड़ी उनकी बाइक चोरी हो गई। वापस आने पर इसकी जानकारी हुई।

उधर, मोहल्ला बेनी चौधरी के निवासी मोहम्मद एहसान राम इंटर कॉलेज के पास एक बरात में शामिल होने गए थे। बाइक बरात घर के बाहर खड़ी कर दी। कुछ देर बाद जब वापस आए तो बाइक चोरी हो चुकी थी। आसपास तलाशा, लेकिन कुछ पता नहीं लग सका। घटना की तहरीर सुनगढ़ी पुलिस को दी गई। जिसके आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

ये भी पढ़ें- पीलीभीत: पीटीआर की हरिपुर रेंज में मिला बाघ के शावक का शव