ऑटो में जाकर अपनी फिल्म के पोस्टर चिपकाते थे Aamir Khan, लोगों से ऐसे करते थे फिल्म देखने की विनती

0
104

बॉलीवुड इंडस्ट्री में जब भी मिस्टर परफेक्शनिस्ट की बात हो और आमिर खान का नाम न आए ऐसा भला कैसे हो सकता है। बता दें Aamir Khan फिल्मी जगत के वो हीरे है जिसे पुरी दुनिया में काफी प्यार दिया जाता है। काफी लंबे समय से वह अपने फैंस को एक से बढ़कर एक फिल्में देते है और फैंस भी उनकी फिल्मों का बेसर्बी से इंतजार करते है। भले ही वह साल में 1 या 2 फिल्में बड़े पर्दें पर लाते हो, लेकिन वह फिल्मों बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाती नजर आती है।

Aamir Khan ने इस इंडस्ट्री में बीते 30 साल से भी ज्यादा समय से है। और आज वो फिल्म इंडस्ट्री का एक जाना-माना चेहरा हैं, लेकिन क्या आपको पता है एक दौर ऐसा भी था, जब उन्हें अपनी फिल्मों के पोस्टर खुद धुप में जाकर ऑटो पर लगाने पड़ते थे?  जी हां आज इस आर्टिकल के जरिए आपको बताते है आमिर के जीवन का ये अनसुना किस्सा।

ऑटो में जाकर अपनी फिल्मों को प्रमोट करते थे Aamir Khan?

ऑटो में जाकर अपनी फिल्म के पोस्टर चिपकाते थे Aamir Khan, लोगों से ऐसे करते थे फिल्म देखने की विनती

दरअसल Bollywood इंडस्ट्री का वह जाना-माना नाम, जिसने अपनी मेहनत और दमदार एक्टिंग के दम पर लोगों के दिलों में अपनी अलग पहचान बनाई। ये और कोई नहीं मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ही है जो एक जानी मानी हस्ती है। बता दें आमिर साल में एक या दो फिल्में लेकर ही आते होंगे, लेकिन ये फिल्में उनकी सुपरडुपर हिट साबित होती है।

 

ऐसा इसलिए क्योंकि आमिर फिल्म साइन करने से पहले सौ बार उसकी कहानी पड़ते है। आज हम सबको ये तो जरूर पता है कि आमिर इतने बड़े सेलिब्रेटी है, लेकिन आपको बता दें हमेशा से ऐसा नहीं था। उन्होंने भी एक बहुत छोटे कलाकार के तौर पर अपनी अभिनय की शुरुआत की थी। उस वक्त आमिर खान को बहुत कम लोग जानते थे। हालांकि उस समय एक्टिंग के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता था क्योंकि उस समय सोशल मीडिया जैसा प्लेटफॉर्म नहीं हुआ करता था।

बता दें Aamir Khan अपनी फिल्मों को प्रमोट करने और खुद को फेमस बनाने के लिए सड़कों पर घूम-घूमकर ऑटो रिक्शा पर अपनी फिल्म के पोस्टर लगाते थे। जी हां, ये सच है इसका एक वीडिो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें आप देख सकते है कि अपनी फिल्म को प्रमोट करने के लिए आमिर क्या क्या कर रहे है?

लोगों के पास जाकर फिल्म देखने की विनती करते थे आमिर

 

Aamir Khan

बता दें एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा खुद एक्टर Aamir Khan ने किया था कि वह लोगों के पास जाकर फिल्म देखने की विनती किया करते थे। ताकि लोग उनकी मूवी देखे और उनकी करियर तेजी से आगे बढ़े। एक इंटरव्यू में आमिर ने कहा , ‘मैं फिल्म के लिए पूरी ‘कोशिश करता था। दोस्तों को बोलता था फिल्म देखने के लिए। जहां भी मैं किसी से मिलता था तो बोलता था कि आप भी फिल्म देखिएगा। यहां तक कि जो स्टिकर्स बने थे फिल्मों के, जो टैक्सी, बस और रिक्शों पर चिपकाते हैं, तो मैं दोस्त जुत्शी, मंसूर और उनकी बहन नूज़र के साथ गाड़ी में निकलते थे।’

लोग बोलते थे कौन है ये आमिर खान?

Aamir Khan

इसके साथ ही आमिर खान (Aamir Khan) ने कहा कि जब वह लोगों से स्टिकर चिपकाने के लिए बोलते तो जहां कुछ चिपका लेते थे, वहीं कुछ यह कहकर इनकार कर देते थे कि न तो उन्हें फिल्म के बारे में पता है और न ही वो जानते हैं कि आमिर खान कौन है। आमिर ने इस बारे में आगे कहा था,

‘हम रोड पर टैक्सी और ऑटो वालों को रोकते थे। उनको बोलते थे कि भाई आप ये चिपकाइए। ये फिल्म आने वाली है। कुछ लोग तो चिपका लेते थे, लेकिन कुछ लोग बोलते थे कि नहीं, नहीं, हमको नहीं चिपकाना है। बोलते थे कि कौन सी फिल्म है, कौन हीरो है। तो हम बोलते थे कि आमिर खान है। सुनकर फिर वो लोग पूछर लोग देखें।’

इस फिल्म से चमकी Aamir Khan की किस्मत

Aamir Khan

बता दें काफी मेहनत करने के बाद आमिर खान को साल 1988 में रिलीज हुई फिल्म “कयामत से कयामत तक” सफलता हासिल हुई और आमिर खान रातों-रात सुपर स्टार बन गए। इस फिल्म में आमिर खान और जूही चावला (Juhi Chawla)थे। वहीं विलियम शेक्सपियर के रोमियो जूलियट से प्रेरित होके इस फिल्म को बनाया गया था। इस फिल्म की सफलता के लिए आमिर खान (Aamir Khan) ने भरसक कोशिश की थी, वो कोशिश कामयाब भी रही और फिल्म हिट हो गई।