इंदौर राजघराने की बहू नाय‎रिका बनेंगी गोदरेज की सीएमडी





मुंबई। जमशेद गोदरेज ने इंदौर के जानेमाने होल्कर राजघराने की बहू नायरिका होलकर को 12,000 करोड़ रुपए की कंपनी गोदरेज एंड बॉयसी की अगली सीएमडी ‎बनाने का फैसला ‎किया है। नायरिका इस 125 साल पुरानी कंपनी में कार्यकारी ‎निदेशक हैं। उन्हें जमशेद गोदरेज के उत्तराधिकारी के तौर पर देखा जा रहा था लेकिन जमशेद गोदरेज ने टीओआई के साथ साक्षात्कार में खुद इस बात की पुष्टि की है कि उनकी भांजी नायरिका कंपनी की अगली सीएमडी होंगी।

जमशेद ने साथ ही उन्हें सलाह दी है कि वह फाइनेंस के मामले में कंजरवेटिव रुख अपनाएं और कंपनी के लिए अगले 125 साल की योजना बनाकर चलें। नायरिका को 2017 में जीएंडबी के बोर्ड में शा‎मिल ‎किया गया था। वह जमशेद की बहन स्मिता कृष्णा की बेटी हैं। उन्होंने अमेरिका को कोलाराडो कॉलेज से फिलॉसफी और इकनॉमिक्स में बीए करने के बाद ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन से एलएलबी और एलएलएम की डिग्री ली थी। उनकी शादी 2015 में होलकर राजघराने के यशवंत राव होलकर से हुई है। दोनों बचपन के दोस्त हैं। यशवंत और नायरिका ने मुंबई में नर्सरी की पढ़ाई साथ-साथ की।

जमशेद गोदरेज ग्रुप के चेयरमैन आदि गोदरेज और गोदरेज एग्रोवेट के चेयरमैन नादिर गोदरेज के कजन हैं। जमशेद ने कहा कि नायरिका की कारोबार में दिलचस्पी है और वह जुनूनी भी हैं। हमारी 125 साल की विरासत इस मजबूत विश्वास का प्रतीक है कि कारोबार के लिए एक पायनियरिंग स्पिरिट जरूरी है। साथ ही इनोवेशन की भावना भी जरूरी है। हम जो कुछ भी करें वह उसकी जड़ें स्थाई होनी चाहिए। हमें जुनून रखने वाले लोगों को आगे बढ़ाना चाहिए।

गोदरेज परिवार में बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है लेकिन जमशेद ने इस पर कहा कि हमने इस मुद्दे पर सार्वजनिक तौर पर बात नहीं करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि कंपनी के स्तर पर अभी अच्छी मांग है। ऐसे में हम ग्रोथ को अगले स्तर तक ले जाना चाहते हैं। उन्होंने कहा ‎कि पिछले कुछ वर्षों में रेफ्रिजरेटर्स की कीमत में तेजी आई है। इससे मांग प्रभावित हुई है। हमें अगले 6-7 साल में अपने टर्नओवर दोगुना करने की जरूरत है। इसमें बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि अर्थव्यवस्था कैसे आगे बढ़ती है।







Previous articleकोरोना से निपटने में डब्ल्यूटीओ ने नहीं ‎दिखाई तत्परता: गोयल
Next articleसेंसेक्स 1200 अंक से अ‎धिक ‎गिरकर खुला