आलिया भट्ट की डार्लिंग्स में नहीं है खास मज़ा, सस्पेंस और थ्रिल के बीच में ही खो गई है फिल्म की कहानी

0
18

आलिया भट्ट की फिल्म डार्लिंग्स नेट्फ़्लिक्स पर रिलीज़ हो चुकी है। ये फिल्म इस समय काफी चर्चाओं में है लेकिन दर्शकों का कहना है कि फिल्म को देखकर उन्हें खास मजा नहीं आ रहा है। बतौर निर्माता ये आलिया भट्ट की पहली फिल्म है। वहीं इस फिल्म में आलिया ने लीड रोल भी किया है। हालांकि फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज़ होने वाली थी।

लेकिन फिल्म के तैयार होने के बाद निर्माताओं को ऐसा लगा कि अब इस फिल्म को ओटीटी पर ही रिलीज़ कर देना चाहिए। नेट्फ़्लिक्स ने लपक के इस फ़िल्म के राइट्स ले लिए। इस फिल्म को शाहरुख और गौरी खान की कंपनी रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनाया गया है और एक बार फिर ये कंपनी दर्शकों की पसंद पहचानने में असफल हो चुकी हैं।

वहीं इस फिल्म से ये साफ हो जाता है कि आलिया को बतौर निर्माता अभी और बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। इस फिल्म की कहानी एक मुस्लिम परिवार के इर्द गिर्द घूम रही है। फिल्म में कई सीन्स तो ऐसे हैं जिनका कोई लॉजिक नहीं है। इस फिल्म में लड़का टिकट कलेक्टर है जिसका सीनियर उससे रोज टॉयलेट साफ कराता है। आज के जमाने में सरकारी नौकरी में होते हुए ऐसा होना मुमकिन ही नहीं है। ये लड़का दफ्तर में भीगी बिल्ली बनकर रहता है।

लेकिन घर आता है तो बीवी के सामने शेर बन जाता है। खाने में एक कंकड़ आने और फिर दूसरा कंकड़ आने तक शांत रहता है और तीसरा आने पर बीवी का गला ही दबोच लेता है जिससे बीवी के गले पर भी निशान आ जाते हैं। लड़की की माँ बेटी को उसके पति से छुटकारा दिलानासी चाहती है। मामला पुलिस तक भी पहुँच जाता है।

लेकिन धीरे धीरे कई अलग ही राज सामने आने लगते हैं। लड़की की माँ के अतीत से जुड़े भी कई राज सामने आते हैं जो हैरान कर देते हैं। ये राज खुलने के बाद यी फिल्म बोर करती हुई नज़र आ रही है। फिल्म को सवा दो घंटे का बनाया गया है जबकि फिल्म सिर्फ 90 मिनट की ही देखने लायक है।