आरटीआई कार्यकर्ता ने सीएमओ पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, शासन से…

0
33

हरदोई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ओपी तिवारी पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं। उनकी शिकायत शासन से करते हुए शिकायतकर्ता ने उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। जिले में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर चिंतित के आरटीआई एक्टिविस्ट विमलेश शर्मा ने सीएमओ ओपी तिवारी को जिम्मेदार ठहराते हुए भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं।

Advertisement

शिकायतकर्ता श्री शर्मा ने शासन को प्रेषित शिकायती पत्र में कहा है कि जिले में फर्जी व अवैध रूप से संचालित निजी अस्पतालों में हर दिन मरीजों की मौत हो रही है, जबकि सीएमओ द्वारा इन फर्जी अस्पतालों पर कार्यवाही न कर उन्हें संरक्षण दिया जा रहा है। पोस्टमार्टम हाउस में लाशों पर सौदेबाजी की जाती है, मामला कई बार मीडिया में आने के बाद भी कोई कार्यवाही न होना सीएमओ की संलिप्तता का प्रमाण है।

जिला अस्पताल में ईएनटी डॉ. जेएन तिवारी की मिलीभगत से बड़े पैमाने पर फर्जी विकलांग प्रमाण पत्र बनाये जा रहे हैं, जिसकी शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही नही हुई। आरोप है कि सीएमओ ओपी तिवारी के कार्यकाल मे जिले में स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल हो चुकी हैं। कमीशन व भ्रष्टाचार करके ओपी तिवारी द्वारा अकूत सम्पति अर्जित की गई है। इन सभी बिंदुओं पर उच्च स्तरीय जांच की जाए। इस संबंध में सीएमओ ने सभी आरोप निराधार बताए हैं।

यह भी पढ़ें:-हल्द्वानी: नशे की हालत में आरटीआई कार्यकर्ता ने पीआरडी जवान को पीटा, रिपोर्ट दर्ज