आज ही घर में लाएं महालक्ष्मी यंत्र ,होगी धन की बरकत

वास्तु शास्त्र में ग्रहो को शांत और भगवान को खुश करने के तरीको के बारे में बताया गया है आज हम आपको महालक्ष्मी यंत्र के बारे में बताने वाले है जिसका संबंध लक्ष्मी से होता है इस यंत्र को घर में या अपने प्रतिष्ठान में लगाने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है और उनकी कृपा बनी रहती है इस यंत्र को सही दिशा और शुभ मुहूर्त में लगाया जाए 

PIC
वास्तु के अनुसार श्वेत हाथियों द्वारा स्वर्ण कलश से स्नान हुई कमल पर विराजमान देवी महालक्ष्मी के पूजन से धन -समृद्धि की प्राप्ति होती है और अगर आपके पास पैसा नहीं टिकता है या फिर किसी न किसी कारण से धन की परेशानी बनी हुई है तो इसके लिए आप अपने घर या ऑफिस में महालक्ष्मी  यंत्र को स्थापित कर सकते है 
वास्तु के अनुसार ऑफिस या प्रतिष्ठान पर महालक्ष्मी यंत्र को पैसे रखने वाली जगह रखना चाहिए और रोजाना इसको धुप अगरबत्ती दिखानी चाहिए इस यंत्र को धनदाता या श्री दाता भी कहा जाता है इस यंत्र के  बुधवार के दिन स्थापित कर सकते है क्योकि बुधवार का संबंध कुबेर जी से माना जाता है 

PIC
इस यंत्र से जुडी एक पौराणिक कथा के अनुसार एक बार लक्ष्मी जी पृथ्वी से बैकुंठ धाम चल गई जिससे पूरी पृथ्वी पर घोर संकट आ गया तब महर्षि वशिष्ठ ने महालक्ष्मी को धरती पर वापसी के लिए और प्राणियों के कल्याण के लिए महालक्ष्मी यंत्र का स्थापित किया और इस यंत की विधि विधान से साधना की ऐसा माना जाता है की इस यंत्र की साधना से लक्ष्मी जी प्रसन्न  हो गई वास्तु के अनुसार इस यंत्र की स्थापना किसी भी दिन नहीं करनी चाहिए इसकी स्थापना बहुत शुभ मुहूर्त दीपावली धनतेरस अभिजीत मुहूर्त बुधवार के दिन करना चाहिए जिससे इस यंत्र का पूरा फल मिलता है