आईपीएल : रसेल की तूफानी पारी से कोलकाता की उम्मीदें कायम

0
45



पुण: आंद्रे रसेल की 28 गेंदों पर चार छक्कों से सजी नाबाद 49 रन की तूफानी पारी और 22 रन पर तीन विकेट की शानदार गेंदबाजी की बदौलत कोलकाता नाईट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को करो या मरो के आईपीएल मुकाबले में शनिवार को 54 रन से हराकर प्लेआॅफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को कायम रखा।
कोलकाता ने 20 ओवर में छह विकेट पर 177 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और हैदराबाद को आठ विकेट पर 123 रन पर रोक दिया। कोलकाता की 13 मैचों में यह छठी जीत है और उसके 12 अंक ही गए हैं और वह छठे स्थान पर पहुंच गयी है । दूसरी तरफ हैदराबाद को 12 मैचों में सातवीं हार का सामना करना पड़ा है और वह आठवें स्थान पर खिसक गयी है।
सातवें नंबर पर खेलने आये रसेल ने 28 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 49 रन ठोके और कोलकाता को एक लड़ने लायक स्कोर तक पहुंचाया जो अंत में मैच विजयी साबित हुआ। रसेल ने अपने चार में से तीन छक्के तो आॅफ स्पिनर वाशिंगटन सुन्दर के पारी के आखिरी ओवर में मारे। उन्होंने पारी की आखिरी गेंद पर छक्का उड़ाकर पारी का समापन किया। रसेल ने सैम बिंिलग्स के साथ छठे विकेट के लिए 63 रन की साझेदारी की। बिलिग्ंस ने 29 गेंदों पर 34 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया। ओपनर अजिंक्या रहाणे ने 24 गेंदों में तीन छक्कों की मदद से 28 और नीतीश राणा ने 16 गेंदों में तीन छक्कों के सहारे 26 रन बनाये। कप्तान श्रेयस अय्यर ने नौ गेंदों में दो चौकों के सहारे 15 रन बनाये।
कोलकाता की तरफ से तेज गेंदबाज उमरान मालिक ने 33 रन देकर तीन विकेट हासिल किये।
हैदराबाद की तरफ से अभिषेक शर्मा ने 28 गेंदों पर 43 रन और एडन मारक्रम ने 25 गेंदों पर तीन छक्कों के सहारे 32 रन बनाये। शशांक सिंह 11 रन बनाकर दहाई की संख्या में पहुंचने वाले तीसरे बल्लेबाज रहे।
कोलकाता की तरफ से रसेल के तीन विकेटों के अलावा टिम साउदी ने दो विकेट लिए जबकि उमेश यादव, सुनील नारायण और वरुण चक्रवर्ती को एक-एक विकेट मिला।
54 रनों की बड़ी जीत के साथ कोलकाता के नेट रन रेट ने लंबी छलांग लगाई। सनराइजर्स हैदराबाद की परेशानियां रुकने का नाम ही नहीं ले रही है और उन्हें इस सीजन में अपनी लगातार पांचवीं हार का सामना करना पड़ा। पिछले दोनों मैचों में 50 रन से अधिक के अंतर से हारने के बाद हैदराबाद का रन रेट -0.27 हो गया है और यहां से दो मैच जीतने के बाद भी उन्हें अन्य टीमों ने परिणामों पर निर्भर रहना होगा। बल्ले के साथ कमाल करने के बाद कोलकाता के गेंदबाजों ने हैदराबाद की बल्लेबाजी को जकड़कर रखा। नारायण को रन पड़े लेकिन वापसी पर उमेश यादव किफायती रहे जबकि वरुण चक्रवर्ती ने अपने चक्रव्यूह में बल्लेबाजों को फंसाया। कोलकाता का ख़ेमा खुश जबकि हैदराबाद के ख़ेमे में निराशा झलकती हुई।

 

Looks like you have blocked notifications!