अप्रैल में एक करोड़ घरेलू यात्रियों ने की हवाई यात्रा

0
130


नई दिल्ली । कोरोना महामारी से राहत के चलते देश में अप्रैल, 2022 के दौरान करीब 1.08 करोड़ यात्रियों ने घरेलू उड़ानों से यात्रा की। यह आंकड़ा मार्च की तुलना में दो प्रतिशत अधिक है। तब 1.06 करोड़ घरेलू यात्रियों ने हवाई सफर किया था। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा कि अप्रैल में सभी एयरलाइंस की सीटें भरने की दर 78 प्रतिशत से अधिक रही।

डीजीसीए के आंकड़ों के अनुसार स्पाइसजेट, इंडिगो, विस्तारा, गो फर्स्ट, एयर इंडिया और एयरएशिया इंडिया की सीटों की बुकिंग दर क्रमश: 85.9 प्रतिशत, 78.7 प्रतिशत, 82.9 प्रतिशत, 80.3 प्रतिशत, 79.5 प्रतिशत और 79.6 प्रतिशत रही। गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी की वजह से पिछले दो साल में विमानन क्षेत्र को यात्रा संबंधी पाबंदियों की मार झेलनी पड़ी है।

डीजीसीए ने बताया कि अप्रैल में देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने अकेले 64.11 लाख घरेलू यात्रियों को हवाई यात्रा कराई। यह इस महीने में कुल घरेलू हवाई परिवहन का 58.9 प्रतिशत है। वहीं 11.09 लाख यात्रियों की संख्या के साथ गो फर्स्ट दूसरे स्थान पर रही।

इसके अलावा देश के चार प्रमुख शहरों बेंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई के हवाईअड्डों पर समय से उड़ानों के संचालन में 94.8 प्रतिशत के साथ एयर एशिया इंडिया ने सबसे अच्छा प्रर्दशन किया। भारत का एविएशन सेक्टर तेजी से सुधर रहा है। लोग दो साल से अधिक की महामारी से संबंधित प्रतिबंधों के बाद छुट्टी और आधिकारिक यात्रा फिर से शुरू कर रहे हैं।

हालांकि, विमानन ईंधन की कीमत, एविएशन सेक्टर के लिए सबसे बड़ा निगेटिव फैक्टर है। विमानन ईंधन की कीमत तेजी से बढ़ी है। वहीं, इस सेक्टर में प्रतिस्पर्धा और तेज होगी क्योंकि दो नए एयरलाइन मार्केट में आ रहे हैं।