अनशन पर बैठे पंडित सुशील पाठक, मौलाना तौकीर रजा पर FIR की मांग, कहा- 19 जून प्रदर्शन में उड़ाया था पीएम का मजाक

बरेली, अमृत विचार। मौलाना तौकीर रजा खां पर एफआईआर दर्ज की मांग लेकर अनशन पर शामतगंज के साईं मंदिर के पुजारी पंडित सुशील पाठक बैठे है। उन्होने कहा कि 19 जून 2022 इस्लामियां इन्टर कालेज के मैदान मे आईएमसी के मुखिया मौलाना तौक़ीर रजा खां ने भारत के  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हिन्दू होने का मजाक उड़ाया और कलमा पढ़ने को कहा था। मौलाना अपने मन मे हिन्दु धर्म को लेकर किस तरह की मानसिकता और मलिन्ता को सार्वजनिक तौर पर प्रकट किया है इससे हम जैसे लाखो लीगो की भावनाएं आहत हुई है। मौलाना तौक़ीर रजा ने अपने भाषण मे धमकी देकर हिन्दुओ को ट्रेन जलाने वाला बताया और कहा कि मुस्लिमों की बात इसलिए सुनी नहीं जाती कि हम ट्रेन नहीं जलाते जिसका मतलब है। मौलाना मुस्लिम युवकों को ट्रेन जलाने के लिए भड़का रहे है।

Advertisement

मौलाना हमारे देश की चुनी हुई सरकार और देश संविधान पर अविश्वास जताते हुए उसका अपमान करते हुए कहते है। कि हम अपना ज्ञापन यूएनओ मे देगें । इसका मतलब है कि मौलाना हमारे सरकार और संविधान में आस्था नहीं रखते। 22 जून को एक प्रार्थनापत्र एफआईआर दर्ज कराने के लिए शहर कोतवाल साथ अपर पुलिस महानिदेशक बरेली जोन को ज्ञापन दिया था। लेकिन अभी तक इस विषय मे कोई कार्यवाही नहीं हुई। इस सम्बन्ध मे रविवार तक इंतजार किया और रविवार दोपहर बजे प्रेसवार्ता बताया की वस्तुतः यह मांग और विरोध का भाव सामाजिक सूचिता और गैर राजनीतिक निर्माण के लिए है ।

साथ ही उन्होने कहा कि लोकतंत्र मे शक्ति प्रर्दशन और कानून को चुनौती देने की परम्परा का विरोध हमारा सामाजिक दायित्व है। शब्दो और भावनाओं पर नियंत्रण रखना सामाजिक सद्भाव और समरस्ता का दर्शन हर छोटे बड़े व्यक्तिसा को सीखना ही होगा ।माननीय प्रधानमंत्री जी को अनाप-शनाप कहने की आजादी आरजकता है न कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और लोकतंत्र का भाव।

27 जून 2022 सोमवार सुबह दस बजे से श्री शिरडी साई सर्बदेब मंदिर श्यामगंज के गेट पर आमरण अनशन की शुरुआत।
साईनाथ इस सत्य संघर्ष मे मेरे साथ है

यह भी पढ़ें- बरेली कॉलेज में मुख्य परीक्षा में नकल करते पकड़ा गया छात्र