अग्निपथ योजना को लेकर हुए बवाल के बाद यूपी में अब तक कुल 387 गिरफ्तार

0
13

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार अग्निपथ योजना का विरोध करने वालों के खिलाफ सख्त रुख अपनाया है। यूपी की योगी सरकार ने प्रदर्शन के नाम पर बवाल काटने वाले अराजक तत्वों पर कड़ा एक्शन लिया है। अग्निपथ योजना के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों में उपद्रवी तत्वों की गिरफ्तारी लगातार जारी है। रविवार को शाम तक 14 जिलों में दर्ज किए गए कुल 34 मुकदमों में 387 उपद्रवी गिरफ्तार किए गए हैं।

Advertisement

इसमें शांतिभंग के आरोप में सीआरपीसी की धारा 151 के तहत 145 तथा अन्य मुकदमों में गिरफ्तार 242 लोग शामिल हैं। इसमें हिंसा व आगजनी में सबसे ज्यादा 43 उपद्रवी मथुरा में गिरफ्तार किए गए हैं, जबकि सीआरपीसी की धारा 151 में सबसे ज्यादा 109 लोग बलिया में गिरफ्तार हुए हैं। मुकदमों में जौनपुर में 41, वाराणसी कमिश्नरेट में 36, अलीगढ़ में 35, चंदौली में 25, मिर्जापुर में 20, गौतमबुद्धनगर कमिश्नरेट में 15 तथा फर्रुखाबाद में चार उपद्रवी गिरफ्तार किए गए हैं।

इसी तरह सीआरपीसी की धारा 151 के तहत बलिया में 109, मथुरा में 27 तथा आगरा में नौ को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले जुमे की नमाज के बाद गत तीन जून को हुए उपद्रव के बाद अब तक 421 अभियुक्त गिरफ्तार किए गए हैं। इस मामले में 10 जिलों में कुल 20 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। सबसे ज्यादा 103 अभियुक्त प्रयागराज, 85 सहारानपुर, 58 कानपुर कमिश्नरेट, 55 हाथरस, 41 अंबेडकरनगर, 40 मुरादाबाद और 20 फिरोजाबाद में गिरफ्तार हुए हैं।

यह भी पढ़ें:-ओवैसी के रांची पहुंचने पर पाक समर्थित नारेबाजी के मामले में जांच का आदेश