SHARE

मुंबई। बॉलीवुड में मशहूर अभिनेता ओम पूरी की मौत पर सस्पेंस बना है। उनकी मौत क्यूँ हुई इस बात की जांच पड़ताल चल रही है। उनकी मौत के बाद से ही उनका मोबाइल फ़ोन गायब था। पर अब उनका मोबाइल होने मिल गया है। उनका मोबाइल उनकीदूसरी पत्नी नंदिता  पूरी के पास मिला है। मोबाइल की जांच करने पर मोबाइल से कुछ संदेहस्पद नहीं मिला है। ओशिवारा थाने के वरिष्ठ इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा, “अब तक कुछ भी नियम विरुद्ध नहीं मिला है। मोबाइल हैंडसेट में कुछ भी संदेहास्पद नहीं मिला है। उसे फॉर्मेट नहीं किया गया है। मैं हैरान हूं कि लोग कैसे ऐसी मनगढ़ंत बातें बना रहे हैं।

यह बेबुनियाद है कि नंदिता पुरी के कहने पर हमने एडीआर (एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्ट) दर्ज की। दरअसल, यह मौत से जुड़े हर उन मामलों में दर्ज होती है, जिसकी जानकारी अस्पताल से मिलती है। ओम पुरी की मौत की असली वजह का पता फोरेंसिक रिपोर्ट आने पर ही चलेगा। इसमें करीब 30-40 दिन लगेंगे। तब ही हम एडीआर को एफआइआर में बदलेंगे। हम पूरी गंभीरता से जांच कर रहे हैं। फिलहाल मामले में कोई साजिश नजर नहीं आ रही।”

दरअसल, मुंबई पुलिस इस मामले में अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। वह इसे सनसनीखेज नहीं बनाने की अपील कर रही है। वह नहीं चाहती कि जो चूक अभिनेत्री जिया खान की मौत के मामले में हुई थी, वह फिर हो। अपराध शाखा के अधिकारियों ने भी खानविलकर की बातों से सहमति जताई है।
उनका कहना है, “इस मामले में अगर शक की जरा भी गुंजाइश होती तो हमें भी ओशिवारा पुलिस के साथ मिलकर समानांतर जांच करने के निर्देश मिलते। कुछ लोग अपने न्यूज पोर्टल की हिट्स बढ़ाने की खातिर तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर उसे खबर की शक्ल दे रहे हैं। उनकी मौत शराब के अत्यधिक सेवन से हुई लगती है।”
loading...