Home लाइफस्टाइल रोज़ खाएं हरी मिर्च, इसके हैं असीम फायदे, कानें क्या …

रोज़ खाएं हरी मिर्च, इसके हैं असीम फायदे, कानें क्या …

326
SHARE

तो चलिए आज बात करते है हरी मिर्च की। हरी मिर्च जिसको सोचते ही दिमाग में तीखा पन सा प्रतीत होता है। हरी मिर्च कई लोगों को बहुत पसंद संद होती है और कई लोग तो हरी मिर्च को हाथ तक नहीं लगते। पर आज इस आर्टिकल में आप पढेंगे की इस छोटी सी हरी मिर्च के क्या क्या असीम फायदे हैं। जो अभी तक खाते आये हैं उनको भी नहीं पता होंगे इस लाभ्दायिक हरी मिर्च के फायदे। दरअसल हरी मिर्च न केवल तीखे स्वाद के लिए ही अच्छी है बल्कि हरी मिर्च हमारी सेहत के लिए भी बहोत फायदेमंद है। और तो और हरी मिर्च बीमारियों से भी दूर रखती है।

अगर आप खाने के साथ ताजी और हरी मिर्च का सेवन करते हैं तो यह विटामिन सी प्रदान करता है। इसलिए अक्सर आपने देखा होगा कि कई लोग खाने के वक्त सलाद के साथ मिर्च खाना पसंद करते हैं। यदि आप मिर्च नहीं खाते हैं तो धीरे-धीरे इसकी आदत डालनी चाहिए, क्योंकि यह आपके सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। आइए जानते हैं कि आखिर मिर्च का और किन तरह से प्रयोग करने से हमें फायदा मिल सकता है।

मिर्च खाने के ये 5 फायदे

घटता है मोटापा

हरी मिर्च सब्जी में डालकर खाने से ज्यादा भोजन के साथ खाने में ज्यादा फायदेमंद होती है। इसका नियमित प्रयोग करने पर आपका मोटापा घटाती है। क्योंकि इसमें मिलने वाला एंटी-ऑक्सीडेंट्स मोटापे को कंट्रोल करता है और चर्बी बनने से रोकता है।

कैंसर की करता है रोकथाम

हरीमिर्च की डंडियां तोड़ देने से वे कई दिनों तक खराब नहीं होती हैं। मिर्च में एंटी-ऑक्सीडेंट्स नामक कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो कैंसर की रोकथाम करते हैं। मिर्च में विटामिन-सी भी होता है। एक ताजी हरीमिर्च एक नारंगी के बराबर होती है। इसलिए हमें खाने के साथ इसका रोजाना सेवन करना चाहिए।

मलेरिया में बेहद फायदेमंद

यदि आपको मलेरिया का बुखार हो गया है तो हरी मिर्च आपके लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है। इस दौरान आपको मिर्च को खाना नहीं है, बल्कि एक हरी मिर्च के बीज निकालकर दो घंटे तक अंगूठे में बांध दें। इस तरह दो तीन बार बांधने से मलेरिया बुखार आना बंद हो जाता है। हालांकि यह तरीका ज्यादातर लोगों के लिए कारगर साबित हुआ है, यदि इससे कोई फायदा न हो तो सीधे डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

जलने पर मिर्च का ऐसे करें यूज

आप भले ही यह सुनकर बेहद चौंक जाएं कि जलने पर मिर्च का इस्तेमाल कौन करता है, लेकिन कुछ आयुर्वेदिक वैद्यों के मुताबिक यह बिल्कुल सही है। क्योंकि मिर्च में ऐसे कई गुण होते हैं, जिसका हमें पता नहीं होता। हरी मिर्च पानी डालकर पीसकर लेप बना लें और यदि जले हुए हिस्से पर इसका लेप लगाएंगे तो लाभ होगा। क्योंकि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स जलन को कम करता है और फफोले पड़ने से रोकथाम करता है।

मूड को बनाता है खुशनुमा

यदि आप डिप्रेस में या फिर अपसेट मूड में है तो ऐसे में मिर्च आपका मूड सही करने में सहायक होता है। भले ही आप इसे मजाक में ले रहें हों, लेकिन यह बिल्कुल सच हैं क्योंकि हरी मिर्च को मूड बूस्टर के रूप में भी जाना जाता है। यह मस्तिष्क में एंडोर्फिन का संचार करती है, जिससे हमारा मूड काफी हद तक खुशनुमा रहने में मदद मिलती है।

loading...